अंतरराष्ट्रीयआज की ताज़ा खबरक्राइमदेश-विदेशभारत स्पेशलमीडिया पर नजरराजनीति

डॉलर के मुकाबले रुपये की बढ़त 71.18 के ऊपर रही

घरेलू शेयर बाजारों में तेजी के बीच बुधवार को लगातार दूसरे दिन बढ़त के साथ रुपए की तेजी के साथ अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया बुधवार को 71.21 रुपए के पार चला गया। ग्रीनबैक के खिलाफ 71.23 पर सत्र शुरू करने के बाद, सुबह के सौदों में रुपया मजबूत स्तर पर 0.18 प्रतिशत बढ़कर 71.18 पर पहुंच गया। विदेशों में डॉलर में मजबूती हालांकि रुपये के लिए लाभ सीमित है। विश्लेषकों का कहना है कि 1 फरवरी को संसद में केंद्रीय बजट 2020 की प्रस्तुति तक रुपया एक संकीर्ण दायरे में चला जाएगा।
चीन में तेजी से फैलने वाले कोरोनावायरस का प्रकोप वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए और अधिक परेशानी का डर है।

इस महीने के अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ने भारत और अन्य उभरते बाजारों में तेज-से-अपेक्षित मंदी का हवाला देते हुए 2020 तक अपने वैश्विक विकास अनुमान को 0.1 प्रतिशत से 3.3 प्रतिशत तक बढ़ा दिया।

ऑटो और मेटल शेयरों की वजह से सेक्टरों में बढ़त के बीच घरेलू शेयर बाजारों में बुधवार को एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स बेंचमार्क इंडेक्स 300 अंक से ज्यादा की बढ़त के साथ 300,300.03 के स्तर के साथ 41,300.03 तक पहुंच गया।

एक फॉरेक्स एडवाइजरी फर्म ने एक नोट में कहा, “बजट के अनुसार, ऐसा लगता है कि यह जोड़ी 70.80-71.50 स्तरों की तंग सीमा में कारोबार जारी रखेगी और बजट के बाद आगे की दिशा निर्धारित की जाएगी।”

कच्चे तेल की कीमतों में बुधवार को दूसरे दिन पांच दिनों की रुख के बाद मजबूती के साथ खड़े होने के कारण ओपेक ने कहा कि अगर नए कोरोनोवायरस की मांग को नुकसान पहुंचाता है तो ओपेक तेल में कटौती कर सकता है, जबकि अमेरिकी शेयर बाजारों में गिरावट दिखाने वाले आंकड़ों ने भी स्थिर कीमतों में मदद की।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close